ऐसा नहीं है कि बाबा #रामदेव से मेरा बहुत #लगाव है,
लेकिन ऐसी भी कोई वजह नहीं है कि मैं उनसे #नफरत करूँ।

#साइकिल से सामान ढोकर #पतंजलि जैसा इतना बड़ा व्यापार सम्राज्य खड़ा करना उनकी मेहनत और लगन का परिणाम है। साथ ही युवा संघर्षशील उद्दमियों के लिये बहुत प्रेणादायक है।

उन्होंने अपने योग से भारत को विश्व भर मे ख्याति दिलाई है और देशभर में लाखों लोगों को रोजगार का एक नया रास्ता दिया है।

मैं देख रहा हूँ कई #चवन्नीछाप लोग, जिनकी #औकात गली के #टपोरी भर की नहीं है, वो बाबा रामदेव द्वारा #कोरोना की दवाई निकालने पर पहले ही मजाक बना थे, अब सरकार द्वारा उसकी प्रमाणिकता के बारे में बाबा से पूछने पर ऐसे #खीखी कर रहे हैं.. जैसे #नासा की लैब के #चीफ_साइंस्टिस्ट यही रहे हों।

अरे भाया.. तुम्हारे से बेहतर #आईआईटियन, #आईआईएमियन, #पीएचडी और #एमएमबीबीएस #होल्डर पतंजलि में #नौकरी करते हैं। समझ गये न।
कोई आदमी अगर प्रयास कर रहा है तो उसका मजाक बनाने से पहले अपने #गिरेबाँ में जरूर #झांक लेना।..

image