5 months ago - Translate

पत्नी ने
तरबूज काटा था। उसके छिलकों को फेंक ही रही थी कि फेसबुक पर एक पोस्ट दिखी...
तरबूज के छिलकों से बनाए टेस्टी जैली...!"
सोचा कि चलो क्यों वेस्ट करें छिलकों को,नया ट्राई किया जाये।
पूरे दिन दिमागखोरी करके तरबूज के छिलकों को बारीक काटा.. उनको उबाला..चाशनी में डाला फिर कलर मिलाया, फिर छाना फिर सुखाया 2 घन्टे😑
जैसे तैसे बनकर तैयार हुई रंग बिरंगी जैली तो पता चला इसे केक, आइसक्रीम या कस्टर्ड में यूज़ करते 😡
अब केक, कस्टर्ड और आइसक्रीम बनाने के वीडियो देख रही😢
आप सभी से अनुरोध है... कृपया फेसबुक पोस्ट देखने से पहले ही छिलके डस्टबिन में डाल दें