देश के लिए बहुत ही गम्भीर समस्या हैं ,
😜😜😜😜😜😜😜😜😜😜😜
1983 का वर्ल्डकप जीताने वाले कपिलदेव जब रिटायर्ड हुए तब क्रिकेट प्रेमीयों को एक चिंता सताती रहती थी की अब इस से अच्छा खिलाड़ी और कप्तान मिलेगा या नही ???
परंतु कपिलदेव से भी अच्छा कप्तान मिला
गांगुली
गांगुली से बढ कर धोनी

कहने का मतलब यह है कि किसी के बिना इस दुनियाँ में कोई काम अटकता नही है
परन्तु..
जब अपने पप्पुआ के बारे मे विचार करता हुं की इस के बाद कौन ????
इस के जैसी कामेडी कौन करेगा ???
साला बहुत डर लगता है और रात-रात भर नींद नहीं आती है
दूर-दूर तक कोई दिखता ही नहीं..!! 😂🤣😂🤣