पापी आत्मा Cover Image

सच कहूं तो मुझे खालिस्तानीयो की सोच समझ में ही नहीं आती

असली पंजाब पाकिस्तान में चला गया.... सिख महाराजा रणजीत सिंह जो सच में सीख के सबसे बड़े गौरव हैं उनका पूरा धरोहर पाकिस्तान में चला गया उनकी राजधानी लाहौर हुआ करती थी उनके बनवाए हुए तमाम गुरुद्वारे और बड़े-बड़े किले जिसमें लाहौर का किला पेशावर का किला ननकाना साहिब सियालकोट का किला सियालकोट में बना विशाल गुरुद्वारा सब पाकिस्तान में चला गया

आप नक्शे में सर्च करिए 80% पंजाब पाकिस्तान में है 20% पंजाब भारत में है और रणजीत सिंह द्वारा शासित क्षेत्र में से 95% क्षेत्र अफगानिस्तान और पाकिस्तान में है सिर्फ 5% भारत में है

लेकिन यह खालिस्तानी कभी पाकिस्तान के कब्जे वाले पंजाब में उथल-पुथल नहीं करते पाकिस्तान के कब्जे वाले पंजाब को यह खालीस्थान में बदलने की मांग नहीं करते जबकि तमाम खालीस्थान आतंकवादी पाकिस्तान में पनाह लिए हैं इतना ही नहीं पंजाब में उग्रवाद के दौरान उन्होंने अपने ही लोगों को मारा

आप याद करिए 1985 कि वह भीषण विमान दुर्घटना जिसे खालिस्तानियों ने अंजाम दिया था जब मोंट्रियल से टोरंटो और टोरंटो से लंदन होकर दिल्ली आने वाला जंबो जेट कनिष्का विमान जिसमें 380 यात्री और चालक दल के 22 सदस्य सवार थे उस विमान में खालिस्तानी आतंकवादियों ने बम रख दिया था और वह बम अटलांटिक महासागर के ऊपर ब्लास्ट हुआ और उसमें सभी लोग मारे गए मरने वालों में 99% सिख थे और चालक दल को छोड़कर कोई भी यात्री भारत का नागरिक नहीं था ज्यादातर यात्री कनाडा के नागरिक थे और कुछ यात्री ब्रिटेन के नागरिक थे और वह सभी कनाडा में सेटल थे

और सच्चाई भी यही है कि इस घटना के बाद खालिस्तानी ज्यादातर सिख लोगों की नजरों में से उतर गए इतना ही नहीं खालिस्तानीयो ने एक और विमान में बम रखने की साजिश रची थी लेकिन बम का वह पार्सल टोक्यो के नरीता एयरपोर्ट पर फट गया था और वह पार्सल एयर इंडिया के एक विमान में रखे जाने वाला था उस विमान में भी ज्यादातर यात्री सीख सवार थे

काश पंजाब के दूसरे लोग भी इन खालिस्तानियो को समझ लेते

image

कोई मृत पक्षी दिखे,तो उसे जमीन में दफना दें। साबुन से अच्छी तरह हाथ साफ करें।पक्षियों,मुर्गों,अंडों से कुछ दिन दूर रहें।

'मुझे एक किताब मिली है जो कहती है कि मासिक धर्म वाली महिलाएँ अशुद्ध होती हैं और पुरुष उनसे दूर रहते हैं।'

फेमिनिस्ट: क्या? ऐसा? आग लगा दो बुक को, क्या नाम है?

'बाइबिल'

फेमिनिस्ट: छी! क्या बोल गई मैं, फादर मुझे माफ़ करें, मुझे पश्चाताप हुआ,दया कीजिये

अवनिजेश स्वामी चिदम्बरानन्द सरस्वती की टाइमलाइन से साभार

About

जोक्स एंड वीडिओज़