भादरा लाइव Cover Image

आपका अपना जे. पी. सिकरोड़ी नया लुक नई दुकान
के साथ सेवा का मौका दे राजकीय चिकित्सा हॉस्पिटल के पास तहसील भादरा

image
image
image
image

श्रीमान थानाधिकारी पुष्पैन्द्रह झाझड़िया पुलिस थाना भादरा कि विदाई प्राटी के कुछ भावुक पल व सभी देशवासियों को स्वतन्त्रता दिवस कि हार्दिक शुभकामनाएं

image
image
image
image

भयंकर टिड्डी आक्रमण के समय भादरा के कृषि पर्यवेक्षक ने कार्य बहिष्कार किया, इन सभी पर विभागीय कार्यवाही होनी चाहिए जरूरत के समय 10 दिन धरने पर रहेंगे बाद में मामले में सुलह कर कार्य पर लौट जाएंगे । जरूरत है अब है काम करने की । वर्ष के 365 दिन में कितने दिन काम करना पड़ता है मुश्किल से 60 दिन बाकी तो वैसे ही ऑफिस में ड्यूटी बैठे रहने की ही तो है । जब जरूरत है तब काम नही कर रहे आमजन को इक्कठे होकर इन सभी पर कार्यवाही करवाने के लिए आगे आना चाहिए । अभद्रता किसी एक अधिकारी के साथ हुई होगी मामले में एफआईआर करवाओ लेकिन इस समय सभी का धरना पर बैठने का क्या मतलब है । भादरा नोहर में टिड्डी मारते समय आप कृषि पर्यवेक्षक की शराब पीते जो वीडियो वायरल हो रही है वो किस लिहाज से ठीक है माना आपकी भी व्यक्तिगत जिंदगी है । आप भी शराब पी सकते है मगर क्या टिड्डियों के आक्रमण के समय यह सब करना ठीक है । मानवीय धर्म समझते हुए अपने आप को किसान का बेटा मानते हुए अपनी जिम्मेदारी का ईमानदारी से निर्वहन करे । आपके किसी एक पर्यवेक्षक के साथ कोई अभद्र व्यवहार हुआ है तो पूर्णतः गलत है लेकिन इसका मतलब यह नही है कि आप सभी लोग इस विपरीत समय में इक्कठे होकर यूनियन का हवाला देकर अपने कर्तव्यों का पालन नही करेंगे । और दूसरी बात अगर आज अगर इस मुश्किल घड़ी में आप लोग कार्य बहिष्कार कर रहे हो तो याद रखना ये जनता आपकी दलील की हमारी व्यक्तिगत जिंदगी है इसको कोई नही समझेगा ।
हर किसी कर्मचारी की यूनियन है जिस दिन किसान एकजुट हुआ आम आदमी एकजुट हुए उस दिन तुम इनसे मुकाबला नही कर पाओगे । कभी ग्राम सेवक धरने पर , कभी एलडीसी , कभी पटवारी , कभी कोई और कर्मचारी क्या तमाशा है ये । आमजन के काम से किसी को कोई मतलब नही । अगर हनुमानगढ़ कोई मामला हुआ है तो भादरा का कर्मचारी धरने पर । ना कोई इन पर कार्रवाई होती ना कोई इनकी हाजिरी पूछता । जिस दिन धरने पर बैठे उस दिन सेलरी नही होनी चाहिए । मान लिया आप लोग काम करते है मगर इसका मतलब यह नही की मनमर्जी ही होगी । 365 दिनों में हर विभाग 30-40 दिन या ओर ज्यादा हड़ताल पर रहता है उसका खामियाजा गरीब आदमी को भुगतना पड़ता है । सोचिए समझिए निर्णय कीजिए । सरकारों को ऐसे प्रदर्शन करने वालो के खिलाफ निश्चित ही कार्रवाई करनी चाहिए ।
#public_pillar_news
#agriculture_superwizers

imageimage
About

भादरा लाइव पेज के माध्यम से आपको भादर तहसील और आस पास के क्षेत्र की सभी जरूरी खबरें पोस्ट्स और वीडिओज़ के माध्यम से मिलती रहेंगी। Dukli को लाइक और शेयर करें।