ज्ञानी बाबा Cover Image

मेरी तो खटिया ही बढ़िया भाई,

हम भारतीय है indian नही ,जिसे तुम कम आंकते हो बो असल मैं एक विज्ञान है ,खटिया अथवा चारपाई

भोजन करने के पश्चात खटिया पर लेटने से रक्त का प्रवाह पैर और खोपड़ी दोनो तरफ से अमाशय (पेट) की ओर तेजी से बढ़ता है तो पाचन क्रिया तेज होती है पाचक रस जल्दी और तेजी से बनते है क्यों कि अपनी देशी खटिया दोनो किनारों से हल्की सी उठी होती है और रक्त का प्रवाह तेजी से और आसानी से हो पाता है पेट की तरफ ,,,,धन्यवाद ताऊ शिव दर्शन मालिक साहब ,

सस्ती ,टिकाऊ , उपयोगी, कही भी ले जाओ किधर भी उड़ेल के सो जाओ देशी खटिया
Back to the root, power of deshi ,,बैड पर लेटने बालों होश मैं रहियो जय हिंद .

image

मोदी जी जड़ें काटते हैं, डालियाँ नहीं....
~~~~◆~~~~
कृषि विधेयक लोकसभा और राज्यसभा दोनो से पास हो गया अब इस विधेयक का खेल देखिये।

कृषि विधेयक नोटबंदी पार्ट-2 है।

जैसे नोटबंदी से ब्लैक मनी का जखीरा दबाए रखने वाले नेस्तनाबूद हो गये थे, वैसे ही इस बिल से पंजाब और महाराष्ट्र के दो दिग्गज बर्बाद हो गये। पंजाब के सुखबीर बादल और महाराष्ट्र के शरद पवार के लौए लग गये।

सुखबीर के 'सुखबीर एग्रो' को कम से कम 5000 करोड़ सालाना की आय होती थी। वे एफ सी आई के और किसानों के बीच के कमिशन एजेंट थे। उनकी कंपनी को 2.5% कमिशन मिलता था। सारे वेयरहाउस उन्ही के थे। बगैर सुखबीर एग्रो का ठप्पा लगे कोई किसान एक टन गेहूं एफ सी आई को बेच नहीं सकता था। एक झटके में सब बर्बाद हो गया।

महाराष्ट्र में शरद पवार की बेटी सुप्रिया सुले 10000 करोड़ का कृषि आय दिखाती थी। पूरे प्याज, मिर्च और अंगूर के व्यापार पर इसी परिवार का कंट्रोल था। इस बिल ने पवार को कहीं का नहीं छोड़ा।

About

like the page for practical knowledge