क्या आप जानते हैं ? Cover Image

मोटर व्हीकल पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया है कि वाहन द्बारा किसी अपकृत्य या क्षति के मामले में वाहन का रजिस्ट्रर्ड मालिक जिम्मेदार होगा। ग्रामीण इलाकों में लोग-बाग एफिडेविट या 29-30 फार्म के आधार वाहन की बिक्री कर देते हैं।खरीददार वाहन को अपने नाम रजिस्ट्रेशन नहीं करवाता।ये बड़ी गल्ती होती है।तत्काल ट्रासंफर करवा देना चाहिए। खरीददार का क्या पता चलता है समय पर बीमा करवाता है या नहीं।उस दशा में एक्सिडेंट में कोई मौत या घायल हो जाता है तो रजिस्ट्रर्ड मालिक और चालक दोनों को जिम्मेदार माना जाता है।किसी की मृत्यु पर लाखों,करोड़ों रुपए का क्लेम पास हो सकता है,जिसे भरना मुमकिन नहीं होता और प्रोपर्टी तक बिक जाती है।बीमा हो तो भी पार्टी तो बनाया ही जाएगा।इस तरह की गल्ती कभी नहीं करें जो भविष्य में भारी पड़ सकती है।

About

knowledge